Loading...

तिरुपुर। तमिलनाडु के तिरुपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर हमला किया। उन्होंने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम को रीकाउंटिंग मिनिस्टर बताया। पीएम मोदी ने कहा कि आइए तमिलनाडु के सबसे बुद्धिमान रीकाउंटिंग मिनिस्टर के बारे में बात करते हैं, जो समझते हैं कि वो दुनिया के सबसे ज्ञानी इंसान हैं।
बता दें कि 2009 के आम चुनाव में शिवगंगा लोकसभा क्षेत्र से पी. चिदंबरम का चुनाव कई वजहों से विवादों में रहा था। 16 मई 2009 की देर रात पी. चिदंबरम को 21 राउंड की गिनती के बाद 3,354 वोटों से विजेता घोषित कर दिया गया था लेकिन शिवगंगा के मतगणना केंद्र में इसके बाद हंगामा हुआ।
दरअसल, आधिकारिक पुष्टि से पहले टीवी चैनल्‍स और न्यूज़ एजेंसियों ने यह दिखा दिया था कि केंद्रीय मंत्री को शिकस्त का सामना करना पड़ा है। इसके बाद एआईएडीएमके कैंडिडेट आरएस राजा कन्नप्पन के समर्थकों ने जीत की खुशी में जश्न मनाना शुरू कर दिया। इसके बाद राजा कन्नप्पन रिटर्निंग ऑफिसर के पास अपना इलेक्शन सर्टिफिकेट लेने गए, जहां उन्हें बताया गया कि गिनती अभी आधिकारिक रूप से खत्म नहीं हुई है।
उस समय भ्रम की स्थिति थी। लग-अलग टेबलों पर मतगणना समान गति से नहीं चल रही थी। कुछ टेबल एक-दो राउंड से दूसरों से आगे थे। कुछ में गिनती हो रही थी तो कुछ में यह प्रक्रिया पूरी हो चुकी थी। इसी दौरान कुछ इलेक्शन एजेंट बाहर आए और प्रक्रिया की समाप्ति की घोषणा कर दी। हालांकि, जब यह कुछ हो रहा था तब तक कन्नप्पन वाकई आगे चल रहे थे और एआईएडीएमके कार्यकर्ताओं ने यह कयास लगा लिया था कि वह जीत चुके हैं। खास बात यह है कि 14वें राउंड तक की गिनती में कन्नप्पन ने अच्छी बढ़त बनाकर रखी थी। हालांकि, अलंगुड़ी विधानसभा के वोटों की गिनती के साथ ही 15वें राउंड में चिदंबरम ने 5,761 वोटों की बढ़त हासिल कर ली। 16वें राउंड में फिर से आंकड़ा बढ़ गया। उस दौरान तमिलनाडु में पी. चिदंबरम की कांग्रेस के सहयोगी डीएमके की सरकार थी, जिससे चुनाव प्रभावित कराने की चर्चाएं जमकर हुईं।
पीएम मोदी ने महागठबंधन को बताया ‘महामिलावट’
रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘एनडीए सरकार के अच्छे काम से कुछ लोग बहुत दुखी हैं। उनकी नाखुशी मोदी के लिए दुर्व्यवहार में बदल गई है।’ पीएम ने जनसभा में कहा, ‘मोदी को गाली देने वाली विपक्ष की राजनीतिक संस्कृति उन्हें टेलिविजन में तो जरूर कुछ जगह दिला सकती है लेकिन चुनाव देश के लिए एक नजरिए के साथ लड़े जाते हैं, न कि निंदा और हमला करने के लिए।’ नरेंद्र मोदी ने इस दौरान एकबार फिर बीजेपी के खिलाफ तैयार हो रहे महागठबंधन को आड़े हाथों लेते हुए उसे महामिलावट बताया।
डीएमके और कांग्रेस पर पीएम मोदी का अटैक
रैली में मोदी ने यह भी कहा, ‘मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह एक भी ऐसा उदाहरण बताएं जहां बीजेपी ने देश की सामाजिक न्याय व्यवस्था को दबाने की कोशिश की हो। वहीं दूसरी ओर, जब तीसरे मोर्चे की सरकार थी तो डीएमके और कांग्रेस ने एससी-एसटी को मिलने वाले प्रोन्नति पर आरक्षण को हटा दिया था।’
‘डर फैलाने का काम अच्छे से करता है विपक्ष’
तिरुपुर में जनसभा के दौरान पीएम मोदी ने हाल ही में सामान्य वर्ग को दिए गए 10 फीसदी आरक्षण का भी जिक्र किया। इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने कांग्रेस पर अटैक करते हुए कहा, ‘विपक्ष सिर्फ दहशत फैलाने का काम अच्छे से कर लेता है। समय-समय पर उन्होंने किसानों, गरीबों और देश के युवाओं को भ्रमित करने का काम किया है।’
‘डिफेंस सेक्टर से होता था अपने सहयोगियों को मदद पहुंचाने का काम’
मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, ‘जिन लोगों को वर्षों तक देश पर शासन करने का अवसर मिला, उन्होंने हमारे रक्षा क्षेत्र के बारे में चिंता नहीं जताई। उनके लिए यह क्षेत्र महज सौदेबाजी और अपने दोस्तों को मदद पहुंचाने के लिए था।’ पीएम ने वन रैंक वन पेंशन योजना का जिक्र करते हुए कहा, ‘यह हमारी सरकार है, जिसने OROP पर अपने वादे को पूरा किया, इससे पहले दशकों तक इस मांग पर किसी ने ध्यान नहीं दिया था।’
‘कांग्रेस के एक नेता ने सेना प्रमुख के लिए इस्तेमाल की थी अभद्र भाषा’
जनसभा में कांग्रेस पर हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस कभी भी हमारी सेना को नुकसान पहुंचाने का मौका नहीं छोड़ती है। कुछ दिनों पहले कांग्रेस के एक नेता ने सेना प्रमुख के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था।’ नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘एनडीए की सरकार प्रत्येक भारतवासी की सरकार है।’
प्रधानमंत्री श्रमयोगी जनधन योजना का रैली में किया जिक्र
पीएम मोदी ने कहा, ‘जो भाई-बहन फैक्ट्रियों, मिलों, कंपनियों और छोटे उद्योगों में काम करते हैं उनकी सुरक्षा के मद्देनजर हाल ही में केंद्रीय बजट में ऐतिहासिक स्कीम प्रधानमंत्री श्रमयोगी जनधन योजना का ऐलान किया गया है।’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मैं तिरुपुर की धरा को नमन करता हूं। यह भूमि साहस की परिचायक है। यह तिरुपुर कुमारन की धरा है, जिन्होंने भारतीय ध्वज के लिए अपनी जिंदगी कुर्बान कर दी। यह भूमि धीरन चिन्नमलई की है, जो समूचे देश को साहस के लिए प्रेरित करती है।’ उन्होंने कहा, ‘नमो अगेन मेसेज के साथ टी-शर्ट और हुडीज भी यहीं तिरुपुर में तैयार की जाती हैं।’
-एजेंसियां

The post जब पीएम ने कहा, आइए अब दुनिया के सबसे ज्ञानी इंसान के बारे में बात करते हैं appeared first on Legend News.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here